आजम के बाद सिद्दीकी का विवादित बयान, कहा-उनसे भी अच्छी ताली बजाते हैं मोदी

  • आजम के बाद सिद्दीकी का विवादित बयान, कहा-उनसे भी अच्छी ताली बजाते हैं मोदी
You Are Here
आजम के बाद सिद्दीकी का विवादित बयान, कहा-उनसे भी अच्छी ताली बजाते हैं मोदीआजम के बाद सिद्दीकी का विवादित बयान, कहा-उनसे भी अच्छी ताली बजाते हैं मोदीआजम के बाद सिद्दीकी का विवादित बयान, कहा-उनसे भी अच्छी ताली बजाते हैं मोदी

हरदोई(अशीष द्विवेदी): सपा के फायरब्रांड नेता आजम खान के बाद बसपा महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने भी प्रधानमंत्री पर विवादित टिप्पणी की है। एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे सिद्दीकी ने कहा कि प्रधानमंत्री उनसे (किन्नरों) भी अच्छी ताली बजा लेते हैं। सिद्दीकी सोमवार को अपनी पार्टी के प्रत्याशी के पक्ष में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करने हरदोई पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने न केवल अमित शाह पर हमला बोला बल्कि सपा-कांग्रेस गठबंधन पर भी तीखा प्रहार किया। 

कभी ताली तो कभी रोने लगते हैं प्रधानमंत्री 
गोपामऊ विधानसभा सीट से बसपा प्रत्याशी मीना वर्मा के पक्ष में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए सिद्दीकी ने प्रधानमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा कि कभी वो धमकाने का भाषण देते हैं तो कभी सीना पीटने लगते हैं। कभी भाषण देते देते ताली बजाने लगते हैं, अब ताली कौन बजाता है कैसे बजाता है आप सब जानते हैं। प्रधानमंत्री तो उनसे भी अच्छी ताली बजा लेते हैं। अगर ताली बजाने से भी काम नहीं चलता है तो वह रोने लगते हैं। प्रधानमंत्री बनने के बाद सात बार वह रो चुके हैं। 

अमित शाह को गिरफ्तार करे चुनाव आयोग 
वहीं अमित शाह द्वारा घोषणा पत्र में शामिल किए गए राम मंदिर पर भी हमला बोला। सिद्दीकी ने कहा कि अमित शाह तो प्रधानमंत्री से भी चार कदम आगे निकले। अब जब प्रदेश में चुनाव आ गया तो उन्हें मंदिर याद आ गया। उन्होंने कहा कि जब अटल बिहारी बाजपेयी प्रधानमंत्री थे तब मंदिर की बात नहीं कही। जब भाजपा सरकार यूपी में रही तब मंदिर नहीं बनवाया। पौने तीन साल से नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री हैं मंदिर की बात नहीं कही, कब तक धोखा दोगे। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि अगर कोई भी नेता या व्यक्ति मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर, गुरुद्वारा के नाम से या फिर जाति धर्म के नाम से वोट मांगता है तो वह अपराधी होगा। कोर्ट के आदेश के बाद भी ये लोग मंदिर के नाम से वोट मांग रहे हैं। अमित शाह ने कोर्ट के आदेश की आदेश की अवमानना की है। वह चुनाव आयोग से अपील करते हैं कि ऐसे अपराधी को गिरफ्तार करके जेल की साखों के पीछे भेजना चाहिए। 

कांग्रेस-सपा को बताया आस्तीन का सांप 
कांग्रेस पर हमला बोलते हुए सिद्दीकी ने कहा कि इनकी जब जब सरकारें रहीं तब तब दंगे हुए। तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने बाबरी मस्जिद का ताला खुलवाने का काम किया तो नरसिंह राव ने क्या किया सबको मालूम है। एक तरफ सपाईयों ने तबाह और बर्बाद कर दिया तो दूसरी तरफ कांग्रेसियों ने। लोग कहते है कि भाजपा बहुत खराब है मैं कहता हूँ खराब है, लेकिन उससे ज्यादा खराब कांग्रेस और समाजवादी पार्टी है। क्योंकि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी आस्तीन का सांप है तो भाजपा काला नाग है। काला नाग तो दिखाई देता है लेकिन आस्तीन में छिपा हुआ सांप जब मर्जी चाहे काट ले। अब कांग्रेस-सपा एक होकर चुनाव लडऩे आए हैं।

UP Political News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!