तीन तलाक पर बोले आजम-धार्मिक आस्थाओं से न हो खिलवाड़

  • तीन तलाक पर बोले आजम-धार्मिक आस्थाओं से न हो खिलवाड़
You Are Here
तीन तलाक पर बोले आजम-धार्मिक आस्थाओं से न हो खिलवाड़तीन तलाक पर बोले आजम-धार्मिक आस्थाओं से न हो खिलवाड़तीन तलाक पर बोले आजम-धार्मिक आस्थाओं से न हो खिलवाड़

लखनऊ: तीन तलाक पर दिए गए सुप्रीम के फैसले पर विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के रिएक्शन आ रहे हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे आधी आबादी को न्याय मिलने की शुरुआत बताया है।

इस बीच समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता आजम खान का भी बयान सामने आया है। उन्होंने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट के बाद भी जनता की अदालत है। अगर वाकई भारत में लोकतंत्र का कुछ भी हिस्सा बाकी है, तो धार्मिक आस्थाओं से खिलवाड़ नहीं होगा। नहीं तो ये बड़ा मुश्किल होगा कि किसकी आस्था पर कब घात हो जाए।’

उन्होंने कहा अगर पार्लियामेंट इस सिलसिले में कोई कानून बनाता है तो वो कानून वही होगा जो इस्लामिक स्कॉलर्स का फैसला होगा। इस्लामिक स्कॉलर्स या किसी भी धर्म के पेशवा राजनीति से प्रेरित नहीं होते हैं। वो किसी राजनीतिक दल के वफादार नहीं होते। किसी राजनीतिक व्यक्ति या विचारधारा के बफादार नहीं होते। उनकी वफादारी सिर्फ धर्मिक और मजहबी विचारधारा के साथ होती है। हम ये उम्मीद करते हैं कि पार्लियामेंट जो भी कानून बनाएगी वो मुलसलमनों के धर्म, उनकी आस्था और उलेमा और स्कॉलर्स के दिए हुए होंगे। ऐसे स्कॉलर्स जिनकी पूरी दुनिया में मान्यता है। उनकी राय और मशवरे से ही कोई कानून बनाएं।

आजम ने कहा धर्म और धार्मिक आस्थाओं में किसी राजनीतिक दल का कोई रोल नहीं होना चाहिए। अगर ऐसा करते हैं तो ये गलत तरीका होगा।
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!