पगला बाबा ने दिया था श्राप- लालू तुझे घमंड है, तू मिट्टी में मिल जाएगा

You Are Here
पगला बाबा ने दिया था श्राप- लालू तुझे घमंड है, तू मिट्टी में मिल जाएगापगला बाबा ने दिया था श्राप- लालू तुझे घमंड है, तू मिट्टी में मिल जाएगापगला बाबा ने दिया था श्राप- लालू तुझे घमंड है, तू मिट्टी में मिल जाएगा

मिर्जापुर: आर.जे.डी. अध्यक्ष लालू यादव के तांत्रिक गुरु विभूति नारायण उर्फ पगला बाबा ने एक बार उन्हें श्राप दिया था। उन्होंने अपने मिर्जापुर के आश्रम में लालू से कहा था कि लालू तुझे घमंड है कि तू बहुत बड़ा पुरोधा है। तू मिट्टी में मिल जाएगा। बिहार विधानसभा से पहले 27 जुलाई 2013 को लालू यू.पी. के मिर्जापुर में एक बाबा के पास पहुंचे थे। यह बाबा उनके तांत्रिक गुरु थे। कहा जाता है कि पगला बाबा से लालू का रिश्ता बहुत पुराना है।

कई मौकों पर पगला बाबा ने लालू और उनके परिवार के लिए अनुष्ठान किया जिसका फायदा लालू को मिला था। चुनाव से पहले लालू ने सत्ता में वापसी के लिए गुप्त तंत्र अनुष्ठान पगला बाबा से ही कराया था। पगला बाबा ने लालू को तंत्र पूजा के बाद आश्रम में बने कटघरे में भी परिक्रमा करवाई थी और उन्हें तप करने को कहा था।

पगला बाबा को औघड़ बताया जाता है। कहा जाता है कि औघड़ बाबा का श्राप आशीर्वाद होता है। अनुष्ठान के दौरान ही बाबा ने लालू के बेहतर दिन की वापसी के लिए उन्हें श्राप दिया था। इससे पहले लालू ने साल 2011 में भी पगला बाबा के यहां पहुंच कर अनुष्ठान कराया था। अनुष्ठान के बाद खुद लालू ने कहा था कि बाबा जी ने बचपन में मेरे जीवन की रक्षा की थी।

बता दें कि पगला बाबा तंत्र साधक थे। वह अटपटे कार्यों के लिए प्रसिद्ध थे। उनके बारे में कहा जाता था कि वह किसी की नहीं सुनते थे। भक्तों के दुख गाली देकर और उनको डंडे से पीटकर भगाते थे। उनके शिष्यों की मानें तो उनकी आयु लगभग 450 साल की थी। उनके करीबी भक्त कहते हैं कि जैसे ही उनको याद करते थे, भले ही हजार किलोमीटर दूर ही क्यों न हो? बाबा के प्रत्यक्ष दर्शन हो जाते थे। इसी साल 14 अप्रैल को पगला बाबा ने विंध्याचल के आश्रम में आखिरी सांस ली थी।



UP SAMACHAR की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!