नोटबंदी, मेरे ही नहीं पूरे देश के साथ साजिश: अखिलेश

  • नोटबंदी, मेरे ही नहीं पूरे देश के साथ साजिश: अखिलेश
You Are Here
नोटबंदी, मेरे ही नहीं पूरे देश के साथ साजिश: अखिलेशनोटबंदी, मेरे ही नहीं पूरे देश के साथ साजिश: अखिलेशनोटबंदी, मेरे ही नहीं पूरे देश के साथ साजिश: अखिलेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुयमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि ‘नोटबंदी मेरे ही नहीं पूरे देश के खिलाफ साजिश’ है।  मंत्रिमंडल की बैठक के बाद अखिलेश यादव ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि नोटबंदी पूरे देश के खिलाफ जबरदस्त साजिश है। पूरा देश लाइन में लगा हुआ है। किसान बरबाद हो गया। बाहर काम करने वाले हजारों लोग अपने घरों को लौट रहे हैं। नोटबंदी के बाद अब ‘कैशलेस’अर्थव्यवस्था की बात की जा रही है। वह केन्द्र सरकार से जानना चाहते हैं कि नोटबंदी और कैशलेस व्यवस्था के लिए क्या तैयारी की गयी है। अखिलेश यादव ने कहा कि कालाधन खत्म हो यह सभी चाहते हैं लेकिन बिना तैयारी के जनता को परेशानी में झोंक दिया गया। बैंकों और एटीएम में लगी लाइन कम होने की बजाए बढती जा रही है। सर्दी और कोहरे में लोग लंबी लाइन लगाये हुए हैं। गांव में तो पैसा पहुंच ही नहीं पा रहा है। किसान काफी तकलीफ से गुजर रहा है। पचास दिन का समय मांगा गया था लेकिन दुश्वारियां खत्म होने में छह माह से एक साल तक लग सकता है।

नोटबंदी से अर्थव्यवस्था हुई पीछे 
अखिलेश ने कहा कि नोटबंदी की वजह से अर्थव्यवस्था पीछे चली गयी है। कहीं काम नहीं रह गया है। जनता इसका सटीक जवाब चुनाव मे देगी। कालाधन तो समाप्त होना ही चाहिए लेकिन यह सरकार का काम है कि इसके लिए किये जाने वाले उपायों से सामान्य जनता को कोई दिक्कत न हो। उनका कहना था कि नोटबंदी से सर्वाधिक परेशानी गरीबों, किसानों और निन मध्यम वर्ग के लोगों को हुई है और वे धीरे-धीरे इसके खिलाफ लामबन्द हो रहे हैं। 

UP Political News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !