चुनाव की निष्पक्षता व शांति व्यवस्था भंग की तो खैर नहीं: सुरेंद्र विक्रम

  • चुनाव की निष्पक्षता व शांति व्यवस्था भंग की तो खैर नहीं: सुरेंद्र विक्रम
You Are Here
चुनाव की निष्पक्षता व शांति व्यवस्था भंग की तो खैर नहीं: सुरेंद्र विक्रमचुनाव की निष्पक्षता व शांति व्यवस्था भंग की तो खैर नहीं: सुरेंद्र विक्रमचुनाव की निष्पक्षता व शांति व्यवस्था भंग की तो खैर नहीं: सुरेंद्र विक्रम

बलिया: जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेंद्र विक्रम ने बांसडीह व सहतवार थाने पर बैठक कर नगर निकाय चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि चुनाव की निष्पक्षता, पारदर्शिता व शांति व्यवस्था को किसी ने प्रभावित करने की कोशिश भी की तो ऐसी कार्रवाई होगी जिसकी अपेक्षा भी किसी ने नही की होगी। चाहे वह अराजक तत्व हों, जनप्रतिनिधि हों या कोई सरकारी अधिकारी-कर्मचारी हों। 

जिलाधिकारी ने कहा कि जोनल व सेक्टर मजिस्टेट यह देख लें कि हर बूथ पर शौचालय, प्रकाश व्यवस्था सुदृढ़ हो। इस चुनाव में महिलाओं की भी ड्यूटी लगी है, लिहाजा शौचालय की बेहतरी पर विशेष ध्यान रहे। उन्होंने समस्त बीएलओ को यह निर्देश दिए कि स्वयं सबके घर-घर जाकर मतदाता पर्ची दें। 

साथ ही मतदाता सूची को पुन: देख लें। कोई मृतक का नाम अगर है तो उसकी सूची बनाकर तहसीलदार को दें। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि चुनाव के दिन कोई अपराधिक किस्म का या किसी मामले में आरोपित व्यक्ति बूथ एजेंट नही बनेगा। एजेंट के पास मोबाइल भी नही रहेगा। जिलाधिकारी ने पुलिस महकमे को निर्देश दिया कि अवैध शराब पर तगड़ी नजर रखेंं। साथ ही यह भी देख लें कि कहीं कोई दावत आदि तो नही हो रही है ? विना अनुमति कोई सभा, जुलूस या कई लोग एक साथ जुटे हों तो सख्त कार्रवाई करें। कहा कि 10 किमी के एरिया में अवैध शराब की सूचना मिली और वह सही पाई गई तो जिम्मेदारी तय करते हुए बड़ी कार्रवाई होगी।

उन्होंने सरकारी कर्मचारियों से कहा कि पूरी तरह निडर होकर अपने दायित्व का निर्वहन निष्पक्षता से करेंगे। सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किये गये हैं। एसपी अनिल कुमार ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया कि अराजक तत्वों को चिन्हित करने का काम जारी रखें। जिस पर भी शांति भंग की आशंका हो, उसे पाबंद करें। क्षेत्र के हिस्टीशीटर व गुंडा एक्ट के तहत हुई कार्रवाई के बावत थानाध्यक्ष से पूछताछ की। इस अवसर पर एसडीएम अनिल चतुर्वेदी, सीओ आलोक सिंह, तहसीलदार मुकेश सिंह, बीडीओ बांसडीह शोभनाथ मौर्य, ईओ बांसडीह संजय राव, ईओ सहतवार आशुतोष ओझा आदि मौजूद थे।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!