मुलायम ने जनता और मीडिया के सिर फोड़ा विधानसभा चुनाव में हार का ठीकरा

  • मुलायम ने जनता और मीडिया के सिर फोड़ा विधानसभा चुनाव में हार का ठीकरा
You Are Here
मुलायम ने जनता और मीडिया के सिर फोड़ा विधानसभा चुनाव में हार का ठीकरामुलायम ने जनता और मीडिया के सिर फोड़ा विधानसभा चुनाव में हार का ठीकरामुलायम ने जनता और मीडिया के सिर फोड़ा विधानसभा चुनाव में हार का ठीकरा

इटावा: समाजवादी पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पार्टी की पराजय का ठीकरा मीडिया और जनता के सिर फोड़ते हुए आज कहा कि मीडिया ने सिर्फ परिवार में लड़ाई को ही परोसा, जबकि जनता बहकावे में आकर भाजपा के साथ चली गयी।

यादव ने यहां संवाददाताआें से बातचीत में प्रदेश की पूर्ववर्ती अखिलेश यादव सरकार के काम की तारीफ करते हुए कहा कि इतना अच्छा काम करने के बावजूद जनता ने सपा को चुनाव में हरा दिया। जनता बहकावे में आ गई और भाजपा के साथ हो गयी। उन्होंने मीडिया की भी आलोचना करते हुए कहा कि उसने सपा अच्छाई नहीं देखी बल्कि बुराई को महत्व दिया और पूरी तरह परिवार की लड़ाई को ही प्रमुखता दी। सपा सरकार मे कितनी गुंडई अराजकता थी अन्य पार्टियों में क्या है यह मीडिया देखे। 

मालूम हो कि वर्ष 2012 में प्रचंड बहुमत से सरकार बनाने वाली सपा को हाल में संपन्न विधानसभा चुनाव में मात्र 47 सीटें ही मिली थीं।  चुनाव में हार के बाद पार्टी में नेतृत्व परिवर्तन के उभरे स्वरों के बारे में यादव ने कहा कि उनके लिये पार्टी अध्यक्ष का पद कोई मायने नहीं रखता। समाजवाद के प्रणेता राम मनोहर लोहिया और जयप्रकाश नारायण के पास भी आखिर कौन सा पद था। अगले कदम के बारे में उन्होंने कहा कि उनका जो भी अगला कदम होगा, वह जनहित और पार्टी के हित में होगा। लखनऊ में आयोजित सपा सदस्यता अभियान बैठक मंे अपने भाई शिवपाल यादव के शामिल ना होने पर सपा संस्थापक ने कहा कि वह बैठक ही थी, कोई समारोह नहीं था। पार्टी में हमें भी सदस्यता लेना है और सक्रिय सदस्य बनना है। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!