जैश-ए-मोहम्मद के निशाने पर PM मोदी और CM योगी, रिकार्डेड टेप में मिली धमकी

  • जैश-ए-मोहम्मद के निशाने पर PM मोदी और CM योगी, रिकार्डेड टेप में मिली धमकी
You Are Here
जैश-ए-मोहम्मद के निशाने पर PM मोदी और CM योगी, रिकार्डेड टेप में मिली धमकीजैश-ए-मोहम्मद के निशाने पर PM मोदी और CM योगी, रिकार्डेड टेप में मिली धमकीजैश-ए-मोहम्मद के निशाने पर PM मोदी और CM योगी, रिकार्डेड टेप में मिली धमकी

लखनऊ: यूपी विधानसभा में विस्फोटक पदार्थ मिलने के बाद जैश-ए-मोहम्मद के रिकार्डेड टेप से खलबली मच गई है। पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के एक नए रिकार्डेड टेप के जरिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धमकी दी गई है। अब इस टेप की जांच यूपी एटीएस के साथ एनआईए कर रही है। वहीं उत्तर प्रदेश विधान भवन में विस्फोटक मिलने के बाद योगी आदित्यनाथ पर आतंकवादी खतरे की आशंका के तहत सुरक्षा और कड़ी की गई है। 

बारूद के बजाए दवा और केमिकल से हमला
जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के इस टेप में प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर बारूद के बजाए दवा और केमिकल से हमला करने का जिक्र है। धमकी भरा यह टेप कश्मीर बेस कैम्प से जैश-ए-मोहम्मद ने जारी किया है। जहां उत्तर प्रदेश एटीएस इस टेप को फर्जी बता रही है, वहीं आईबी से लेकर देश की बड़ी सुरक्षा एजेंसियां इस धमकी को गम्भीरता से लेते हुए जांच कर रही है।

बीते दो हफ्ते में पीएम और सीएम को मिली दूसरी धमकी
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धमकी संदेश और इसके 36 घंटे के अंदर उत्तर प्रदेश विधान भवन में विस्फोटक मिलने से इस बात की आशंका गहरा जाती है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जैश के निशाने पर हैं। बीते दो हफ्ते में प्रधानमंत्री मोदी तथा योगी आदित्यनाथ को यह दूसरी धमकी है। 

नए तरीकों से किया जाएगा विस्फोट-आतंकी मसूद
भारत की संसद पर 2001 में आतंकी हमले का मास्टरमाइंड मसूद अजहर अपने धमकी संदेश में साफ कह रहा है कि अब हमले के लिए पारंपरिक तरीकों जैसे बंदूक, ग्रेनेड और गोलियों को छोड़कर नए और घरेलू तरीकों को अपनाना चाहिए। मसूद अजहर ने हमले के नए तरीकों के लिए खासतौर पर नए उपकरणों जैसे व्हीकल, बिजली, पेट्रोल, फर्टिलाइजर और खासतौर पर 'दवाइयों' को इस्तेमाल करने की सलाह दी थी। यूपी विधानसभा में कल मिला विस्फोटक पीईटीएन का दवाइयों के प्रयोग में इस्तेमाल होता है। 



UP LATEST NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !