दिव्यांग कर्मचारी को मंत्री सत्यदेव पचौरी ने किया अपमानित, पीड़ित ने कहा-CM से करूंगा शिकायत

  • दिव्यांग कर्मचारी को मंत्री सत्यदेव पचौरी ने किया अपमानित, पीड़ित ने कहा-CM से करूंगा शिकायत
You Are Here
दिव्यांग कर्मचारी को मंत्री सत्यदेव पचौरी ने किया अपमानित, पीड़ित ने कहा-CM से करूंगा शिकायतदिव्यांग कर्मचारी को मंत्री सत्यदेव पचौरी ने किया अपमानित, पीड़ित ने कहा-CM से करूंगा शिकायतदिव्यांग कर्मचारी को मंत्री सत्यदेव पचौरी ने किया अपमानित, पीड़ित ने कहा-CM से करूंगा शिकायत

लखनऊ: योगी सरकार के मंत्री सत्यदेव पचौरी द्वारा भरी महफिल में दिव्यांग सफाई कर्मचारी को अपमानित करने का मामला सामने आया है। पीड़ित दिव्यांग दिनेश कुमार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर मंत्री की शिकायत करने की बात कही है। उन्होंने बताया है कि उन्हें मंत्री जी की बातों से बहुत दुख पहुंचा है। उन्होंने कहा कि वह इतने सालों से यहां काम कर रहे हैं और बड़े लोग उन्हें कुछ भी बोल देते हैं। 

क्या है पूरा मामला?
दरअसल कल योगी सरकार के मंत्री सत्यदेव पचौरी ने भरी महफिल में दिव्यांग सफाई कर्मचारी को अपमानित किया था। मंत्री एक वीडियो में सफाई कर्मचारी की तरफ इशारा करते हुए कह रहे हैं कि इस ‘लूले लंगड़ों’ को संविदा पर रख रखा है। वीडियो में सत्यदेव पचौरी दिव्यांग सफाई कर्मचारी को यह भी कहते हैं कि ऐसा आदमी क्या सफाई कर पाएगा। सफाई कर्मचारी से जब उसकी तनख्वाह पूछी जाती है तो वो अपनी तनख्वाह चार हजार रुपये बताता है।
                     PunjabKesari
मंत्री जी ने कहा कि ऐसे टेड़े मेड़े लोगों को रखोगे तो क्या सफाई होगी-दिनेश 
एक न्यूज चैनल से बातचीत में दिनेश ने कहा, ‘मंत्री जी को हमने बताया था कि हम यहां साल 1999 से काम कर रहे हैं और मुझे चार हजार रुपए तनख्वाह मिलती है। इसके बाद मंत्री जी ने कहा कि ऐसे टेड़े मेड़े लोगों को रखोगे तो क्या सफाई होगी।’ उन्होंने कहा कि मंत्री जी के इस बयान से वह बहुत चिंतित हैं। इतने साल हो गए, आजतक मैंने किसी को शिकायत का मौका नहीं दिया है। इससे पहले भी तीन-चार मंत्री बदले जा चुके हैं लेकिन कभी किसी ने उनके काम पर सवाल नहीं उठाया। 

बड़े लोग तो कभी भी कुछ भी बोल सकते हैं- दिनेश
दिनेश ने आगे कहा, मंत्री जी क्यों इतना भड़क गए थे उन्हें नहीं पता। उनकी अपनी सोच है और उनका अपना कहना है। उन्होंने कहा, ‘बड़े लोग तो कभी भी कुछ भी बोल सकते हैं। उनके बोलने में क्या जाता है। मगर मेरे साथ गलत हुआ है। इसलिए मैंने योगी जी से मिलने का विचार किया है। मैं उनके सामने अपनी बातें रखूंगा।’

मंत्री जी साबित करें कि मैं विकलांग हूं- दिनेश
दिनेश ने कहा, ‘मंत्री जी माफी मांगे या ना मांगे लेकिन उन्होंने जो बोला है वो गलत है। ऐसे में या तो मंत्री जी साबित करें कि मैं विकलांग हूक्योंकि डॉक्टर ने जो रिपोर्ट बनाई है उसमे साफ है कि जो कर्मचारी यहां काम कर रहे हैं उनके कोई दिक्कत नहीं हैं।’

मंत्री ने दी सफाई  
दिव्यांग कर्मचारी के अपमान पर मंत्री सत्यदेव पचौरी ने सफाई दी है। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मतलब दिव्यांग को हटाना नहीं था बल्कि मेरा कहना था कि वह कमजोर है, काम नहीं कर पाता तो उसकी सहायता को एक दूसरा व्यक्ति रख लो।’’



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !