BHU हिंसा मामले में इन अधिकारियों पर गिरी गाज, 1200 छात्र-छात्राओं पर FIR

You Are Here
BHU हिंसा मामले में इन अधिकारियों पर गिरी गाज, 1200 छात्र-छात्राओं पर FIRBHU हिंसा मामले में इन अधिकारियों पर गिरी गाज, 1200 छात्र-छात्राओं पर FIRBHU हिंसा मामले में इन अधिकारियों पर गिरी गाज, 1200 छात्र-छात्राओं पर FIR

वाराणसी: उत्तर प्रदेश सरकार ने काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में छेड़खानी के खिलाफ धरना-प्रदर्शन कर रहीं छात्राओं पर पुलिस लाठीचार्ज मामले में बड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए लंका थाना प्रभारी को लाइन हाजिर करते हुए भेलूपुर के पुलिस क्षेत्राधिकारी का तबादला कर दिया।
                 PunjabKesari
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भेलूपुर के क्षेत्राधिकारी (सीओ) निवेश कटियार का तबादला कर दिया गया है। उनके स्थान पर पुलिस उपाधीक्षक एपी सिंह को तैनात किया गया है। सिंह ने सुबह पदभार ग्रहण कर लिया। उन्होंने बताया कि इसके अलावा लंका थाना प्रभारी राजीव सिंह को लाइन हाजिर कर दिया गया है। उनकी जगह संजीव मिश्रा को तैनात किया गया है। देर रात वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आर के भारद्वाज ने इस बारे में आदेश जारी किए थे।
                PunjabKesari
गौरतलब है कि बीएचयू परिसर में मनचलों से परेशान सैंकड़ों छात्राएं सुरक्षा की मांग को लेकर 22 सितंबर की सुबह से धरने पर बैठी हुई थीं। शनिवार रात कुलपति प्रो. गिरीश चंद्र त्रिपाठी से बातचीत की कोशिशें विफल होने के बाद आंदोलनकारी उनके निवास की ओर मार्च कर रहीं थीं, तभी उनपर लाठीचार्ज किया गया था।
                 PunjabKesari
इसके बाद भड़की हिंसा में एक दर्जन छात्राएं, कई पत्रकारों एवं पुलिसकर्मियों सहित 18 से अधिक लोग घायल हो गए थे। उग्र भीड़ ने जमकर तोड़फोड़ की थी और एक ट्रैक्टर एवं कई मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर दिया था। शनिवार रात से विश्वविद्यालय परिसर में तनाव का माहौल है और बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात हैं। वहीं, बीएचयू परिसर में प्रदर्शन करने के मामले में 1200 छात्र-छात्राओं पर FIR दर्ज की गई है।



UP BREAKING NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!