मां गंगा को साक्षी मानकर विदेशी साईकोलाजिस्ट ने किया विवाह

You Are Here
मां गंगा को साक्षी मानकर विदेशी साईकोलाजिस्ट ने किया विवाहमां गंगा को साक्षी मानकर विदेशी साईकोलाजिस्ट ने किया विवाहमां गंगा को साक्षी मानकर विदेशी साईकोलाजिस्ट ने किया विवाह

वाराणसी(केएन शुक्ला): संस्कृति और आध्यात्म की नगरी काशी में सदियों से विदेशी नागरिक शान्ति और आध्यात्म की खोज के लिए आते रहे हैं। अक्सर विदेशी नागरिक यहां अपनी नई जिंदगी की शुरुआत भी करते हैं। कुछ आध्यात्म की तरफ अग्रसर हो संसार का मोह त्याग देते हैं तो कुछ यहां अपनी नई जिंदगी की शुरुआत विवाह करके करते हैं। ऐसा ही कुछ आज काशी के दशाश्वमेध घाट पर देखने को मिला। जब अपने कैथोलिक समुदाय से अलग हटकर नए तरीके से विवाह करने को आतुर पहली बार इंडिया आये मेक्सिको के 40 वर्षीय ज्वेलरी व्यपारी हेक्टर नवर्तो ने अपनी साइकोलॉजिस्ट प्रेमिका वेरोनिका से मां गंगा को साक्षी मानकर विवाह किया।

शादी से खुश हैं कपल 
इस सम्बन्ध में बात करते हुए हेक्टर ने बताया कि ‘हम कैथोलिक समुदाय से हैं और हमारे यहां अलग तरीके से शादी की रस्में की जाती हैं। मेरी प्रेमिका वेरोनिका ने मुझसे कहा कि मैं अलग तरीके से शादी करना चाहती हूं। हेक्टर की पत्नी वोरेनिका बात करने को पहले राजी नहीं हुई पर इस ख़ुशी के पल में बस इतना कहा कि मैं अपने प्यार और अब पति हेक्टर के लिए कुछ भी करने को तैयार हूं। दो साल पहले जब इनसे मिली थी तब यह नहीं सोचा था कि ऐसे शादी करूंगी। अब दोनों शादी करके बेहद खुश हैं। 

हिंदू रीति रिवाज से विवाह कराया संपन्न 
हेक्टर और वेरोनिका के गाइड संजय ने बताया कि ‘ये दोनों कपल आज दोपहर बाद ही दिल्ली से आयें हैं और दो दिन बाद यहां से वापस खजुराहो चले जायेंगे। इनका 12 दिन का इंडिया का टूर है। हिन्दू रीति रिवाज से शादी करने के लिए ही ये खासकर के अमेरिका की मेक्सिको सिटी से यहां आये। गंगा के उसपार पूरी रीति रिवाज से इनका विवाह संपन्न कराया गया। 

UP News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You