कर्ज के बोझ तले दबे एक और किसान ने लगाई फांसी

  • कर्ज के बोझ तले दबे एक और किसान ने लगाई फांसी
You Are Here
कर्ज के बोझ तले दबे एक और किसान ने लगाई फांसीकर्ज के बोझ तले दबे एक और किसान ने लगाई फांसीकर्ज के बोझ तले दबे एक और किसान ने लगाई फांसी

बांदा: उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के बिसंडा क्षेत्र में साहूकारों और बैंक के कर्ज के बोझ तले दबे एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस सूत्रों ने आज बताया कि बिसंडी गांव में किसान बिहारीलाल (45) ने कल अपने घर में फांसी लगा ली। परिजन उसे अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

उन्होंने बताया कि किसान के शव को पोस्टमॉर्टम कराने के बाद परिजन को सौंप दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है। बिहारीलाल के परिजनों ने बताया कि उसके नाम केवल छह बीघा कृषि भूमि थी। पिछले साल बेटी की शादी के लिए उसने बैंक से करीब एक लाख रुपये और गांव में साहूकारों से करीब डेढ़ लाख रुपये कर्ज लिया था। बैंक और साहूकार वसूली के लिये दबाव बना रहे थे, जिससे परेशान होकर उसने आत्महत्या कर ली। 

जिलाधिकारी डॉ. सरोज कुमार ने बताया कि किसान द्वारा आत्महत्या किए जाने की बाबत उप जिलाधिकारी से आख्या मंगाई गई है। उसके अध्ययन के बाद सरकारी मदद दी जाएगी। 

UP News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!