Subscribe Now!

वाराणसी पहुंचे दलाई लामा, बुद्ध की तपोभूमि सारनाथ में हुआ भव्य स्वागत

You Are Here
वाराणसी पहुंचे दलाई लामा, बुद्ध की तपोभूमि सारनाथ में हुआ भव्य स्वागतवाराणसी पहुंचे दलाई लामा, बुद्ध की तपोभूमि सारनाथ में हुआ भव्य स्वागतवाराणसी पहुंचे दलाई लामा, बुद्ध की तपोभूमि सारनाथ में हुआ भव्य स्वागत

वाराणसी: तिब्बती आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा अपने पांच दिवसीय दौरे पर आज उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी एवं वाराणसी पहुंचे, जहां तिब्बती परंपरा के साथ उनका भव्य स्वागत किया गया।  

लामा भगवान बुद्ध की तपोभूमि सारनाथ स्थित केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा प्राप्त केंद्रीय उच्च तिबती शिक्षा संस्थान के स्वर्ण जयंती समारोह एवं अंतरराष्ट्रीय सेमिनार सहित विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेने आये हैं। अपने सर्वोच्च धर्मगुरु लामा की यात्रा उत्साहित विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 गेशे नवांग समतेन और बड़ी संख्या में यहां के शिक्षक एवं विद्यार्थियों ने कतारों में खड़े होकर विशेष वाद्य यंत्र बजाकर उनका स्वागत एवं अभिवादन किया। लामा ने अपने सभी को अनुआयियों को आशिर्वाद दिया। वह विश्वविद्याल परिसर में ही प्रवास करेंगे।   

वाराणसी में तिब्बती विश्वविद्यालय की स्थापना के 50 वर्ष पूरे होने के अवसर पर आयोजित कार्योक्रमों के मद्देजनर परिसर को खास उत्सव की तरह सजाया गया है। माहौल है। पूरे परिसर को तिबती सांस्कृतिक मान्यताओं एवं परंपराओं के अनुसार आकर्षक तरीके सजाया-सवारा गया है। समारोहों के लिए भव्य पंडाल बनाये गए हैं। सारनाथ में विश्वविद्यालय परिसर पहुंचने के प्रमुख मार्गों पर आकर्षक स्वागत द्वार बनाये गए हैं। 

प्रो0 समतेन ने बताया कि कार्यक्रामों से संबंधित तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। जिला प्रशासन की ओर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये हैं, जबकि विश्वविद्यालय प्रशासन ने भी अपने स्तर पर तैयारियां की है। उन्होंने बताया कि लामा कल यहां ‘भारतीय दार्शनिक विचारों और आधुनिक विज्ञान’ विषय पर आयोजित दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में उद्घाटन भाषण देंगे। लामा का भाषण 30 दिसंबर की सुबह नौ बजे के बाद शुरू होगा और वह अगले दिन भी सम्मेलन में शामिल होंगे। 
 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन