कॉलेज कर्मचारी से मारपीट करना माफिया डॉन को पड़ा महंगा

  • कॉलेज कर्मचारी से मारपीट करना माफिया डॉन को पड़ा महंगा
You Are Here
कॉलेज कर्मचारी से मारपीट करना माफिया डॉन को पड़ा महंगाकॉलेज कर्मचारी से मारपीट करना माफिया डॉन को पड़ा महंगाकॉलेज कर्मचारी से मारपीट करना माफिया डॉन को पड़ा महंगा

इलाहाबाद: माफिया डॉन से नेता बने और वर्ष 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के सपा उम्मीदवार अतीक अहमद पर इलाहाबाद के बाहरी इलाके में एक शैक्षणिक संस्थान के कर्मचारियों के साथ कथित मारपीट करने को लेकर मामला दर्ज किया गया है। शिकायत है कि अहमद कल अपने समर्थकों के साथ साम हिग्गिंगनबोट्टम इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चर, टेक्नॉलोजी एंड साइंसेज (एसएचआईएटीएस) के परिसर में घुस गए और जब इस संस्थान के कर्मचारियों ने उनके अवैध प्रवेश का विरोध किया तब उन्होंने उनके साथ मारपीट की।

इलाहाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने कहा, ‘‘संस्थान के जन संपर्क अधिकारी की शिकायत पर जिले के ट्रांस यमुना क्षेत्र के नैनी थाने में अहमद और उनके चार समर्थकों पर दंगा फैलाने, अवैध रूप से इकट्ठा होने, डकैती, और आपराधिक धौंसपट्टी से जुड़ी भादसं की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।’’ 

माथुर के अनुसार प्राथमिकी में 50 अन्य अज्ञात व्यक्तियों का भी जिक्र है। एसएचआईएटीएस के जनसंपर्क अधिकारी के अनुसार अहमद और उनके समर्थक कुलपति आर बी लाल से मिलने की बात कहकर संस्थान के परिसर में घुस आए। सुरक्षा अधिकारी ने उनसे कहा कि लाल अपने चैम्बर में नहीं हैं तथा वे समय लेकर बाद में आएं। नाराज अहमद और उनके समर्थकों ने उस सुरक्षा अधिकारी के साथ मारपीट शुरू कर दी और जब अन्य कर्मचारियों ने हस्तक्षेप करने का प्रयास किया तब वे भी उनके शिकार बने। अहमद ने आरोप से इनकार किया है। 

उन्होंने कहा कि हाल ही में शिक्षकों के साथ दुव्र्यवहार के आरोप में निष्कासित कर दिए गए छात्रों मोहम्मद सैफ एवं साकिब के निष्कासन पर पुनर्विचार पर आग्रह के साथ वह कुलपति से मिलने संस्थान गए थे। सपा ने पिछले ही हफ्ते अहमद को कानपुर छावनी सीट से पार्टी का उम्मीदवार घोषित किया है। 

UP News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !