CM योगी की हिदायत, कानून को हाथ में ना लें भाजपा कार्यकर्ता

  • CM योगी की हिदायत, कानून को हाथ में ना लें भाजपा कार्यकर्ता
You Are Here
CM योगी की हिदायत, कानून को हाथ में ना लें भाजपा कार्यकर्ताCM योगी की हिदायत, कानून को हाथ में ना लें भाजपा कार्यकर्ताCM योगी की हिदायत, कानून को हाथ में ना लें भाजपा कार्यकर्ता

झांसी: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज भाजपा कार्यकर्ताआें को विकास कार्यों में कोई गड़बड़ी होने पर कानून हाथ में ना लेने की हिदायत देते हुए कहा कि वे गलत काम की शिकायत केवल अपने जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों से ही करें। इससे सरकार बेहतर ढंग से काम कर सकेगी। एक सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बुंदेलखंड को 2 साल के अंदर पानी की किल्लत से मुक्त कराएंगे। साथ ही उन्होंने बुंदेलखंड को राजधानी दिल्ली से 6 लेन से जोडऩे की बात कही।

योगी ने अपने बुंदेलखण्ड दौरे के दौरान यहां भाजपा कार्यकर्ताआें को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘कानून को हाथ में मत लीजिये। आप केवल अपने जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों को गलत कार्य के बारे में बताइये। बुंदेलखण्ड के लिये सिंचाई की सभी बड़ी योजनाआें की समय-समय पर समीक्षा करें और उसकी रिपोर्ट संबन्धित मंत्री और मुख्यमंत्री कार्यालय को दें। अगर आप यह काम करेंगे तो हम बेहतर कार्य कर सकेंगे।’’ 

विपक्ष में थे तो सब चलता था अब धरना प्रदर्शन आपका काम नहीं
उन्होंने कहा, ‘‘विपक्ष में तो धरना प्रदर्शन सब चलता था, मगर अब आप सत्ता में हैं, अब धरना प्रदर्शन आपका काम नहीं है। आपका काम है शासन की योजनाआें का प्रचार करना।’’ बुंदेलखण्ड के विकास के लिये अपनी योजनाआें का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार बुंदेलखण्ड को छह लेन की सड़क के जरिये नयी दिल्ली से जोडऩे की नयी योजना पर काम कर रही है। इसका मतलब होगा बुंदेलखण्ड में उद्योगों से आने वाले पांच वर्षों में यहां के लाखों नौजवानों को रोजगार मिलेगा। इससे यहां से पलायन रकेगा। 

कांग्रेस पर बोला हमला 
उन्होंने ‘गरीबी हटाआे’ का नारा देने वाली कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, ‘‘जब मोदी जी प्रधानमंत्री बने, तो करोड़ों लोगों के पास बैंक खाता नहीं था। आज 28 करोड़ लोगों के जन-धन खाते खुल चुके हैं, जो लोग देश में गरीबी हटाआे की बात करते थे, उन्होंने इन लोगों के लिये कोई नीति नहीं बनायी थी। कोई समाजवाद के नाम पर वामवाद के नाम पर समाज को बांटता था लेकिन योजनाआें का लाभ समाज तक नहीं पहुंचता था।’’  योगी ने कार्यकर्ताआें से अपील की कि वे अपनी तैयारी को संगठनात्मक दृष्टि से आगे बढ़ाएं। हर वर्ग को अपने साथ जोड़ें, किसी भी तरह का कोई दुराव ना हो। अगर सबको जोड़ें तो यह एेसी राष्ट्रवादी व्यवस्था का चेहरा हो सकता है जहां हर कोई अपनी बात कह सकेगा। 

लोक कल्याण का अर्थ जाति-धर्म नहीं 
योगी ने कहा कि लोक कल्याण का अर्थ जाति या धर्म का कल्याण नहीं, बल्कि सभी वर्गों के समान कल्याण से है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि बिना भेदभाव के हर योजना हर व्यक्ति तक पहुंचे। इसमें आप कार्यकर्ताआें के सहयोग की जरूरत है। इससे पहले, योगी साढ़े 10 बजे पुलिस लाइन मैदान में हेलीकाप्टर से पहुंचे। उसके बाद उन्होंने जिला चिकित्सालय का आकस्मिक दौरा किया और कुछ वार्डों में मरीजों से हाल पूछा। बाद में वह कानपुर रोड स्थित कृषि मण्डी पहुंचे और निरीक्षण किया।

प्राथमिक विद्यालय का किया निरीक्षण 
मुख्यमंत्री बड़ागांव विकास खण्ड के टाकोरी गांव भी पहुंचे और प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने विद्यार्थियों से उनका नाम और कक्षा के बारे में पूछा। साथ ही मिड डे मील की उपलब्धता के बारे में भी जानकारी ली। योगी ने स्कूल की रसोई का भी निरीक्षण किया। योगी ने विकास भवन में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। 

किसानों से कोई रिश्वत ना लेने की हिदायत
बैठक में शामिल सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री ने इस दौरान किसानों की समस्याआें का संपूर्ण निवारण करने, किसानों का गेहूं क्रय केन्द्र पर खरीदने की मुकम्मल व्यवस्था करने, कोई घटतौली ना करने और किसानों से कोई रिश्वत ना लेने की हिदायत दी। उन्होंने बताया कि योगी ने कहा कि सिंचाई सुविधाआें की कमी बुंदेलखण्ड की प्रथम समस्या है, उसका हल हो और कानून-व्यवस्था चाक-चौबंद की जाए। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!