अखिलेश पर मायावती का पलटवार, कहा-सपा ने खुद अपना वोट बीजेपी को किया ट्रांसफर

  • अखिलेश पर मायावती का पलटवार, कहा-सपा ने खुद अपना वोट बीजेपी को किया ट्रांसफर
You Are Here
अखिलेश पर मायावती का पलटवार, कहा-सपा ने खुद अपना वोट बीजेपी को किया ट्रांसफरअखिलेश पर मायावती का पलटवार, कहा-सपा ने खुद अपना वोट बीजेपी को किया ट्रांसफरअखिलेश पर मायावती का पलटवार, कहा-सपा ने खुद अपना वोट बीजेपी को किया ट्रांसफर

लखनऊ: बसपा प्रमुख मायावती ने मुख्यमंत्री अखिलेश के आरोपों पर पलटवार किया है। मायावती ने अखिलेश को जवाब देते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव में बसपा ने नहीं, बल्कि सपा ने अपना वोट भाजपा के खाते में डलवाया था। इसी खास वजह से अब सपा की स्थिति काफी खराब हो गयी है, इसीलिए मुख्यमंत्री बार-बार कांग्रेस से गठबन्धन करने की बात कर रहे हैंं। बता दें कि अखिलेश यादव ने मायावती पर आरोप लगाया था कि उन्होंने वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी के वोट भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में डलवाए थे। उन्होंने कहा कि वह अपने इस दावे को साबित कर सकते हैं।

वोट प्रतिशत मामले में बसपा तीसरे नंबर पर
मायावती ने कहा कि लोकसभा चुनाव में एक भी सीट ना जीत पाने के बावजूद वोट प्रतिशत के मामले में बसपा, भाजपा और कांग्रेस के बाद तीसरे नंबर पर है। इस लिहाज से सपा किस पायदान पर है, इस बारे में उसके नेताआें को जनता को बताना चाहिए। 

कतार में खड़े लोगों के बीच जाकर उनकी परेशानी समझे मोदी
इस दौरान मायावती ने नोटबंदी को लेकर फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। मायावती ने एक बयान में कहा, ‘‘देश में नोटबंदी के 35 दिन बाद भी एटीएम और बैंकों के बाहर लोगों की लगी भीड़ की लंबी लाइन छोटी नहीं हुई। इन हालात में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनके केन्द्रीय मंत्रियों को लोगों के बीच जाकर उनकी परेशानी को समझना चाहिए। साथ ही अपने इस फैसले की पुन: समीक्षा भी अवश्य करनी चाहिए। वरना वक्त आने पर जनता उन्हें इस बात की सजा देगी।’’ 

नोटबंदी से अभी भी परेशान हैं 90 प्रतिशत लोग
उन्होंने कहा कि नोटबंदी से देश के लगभग 90 प्रतिशत गरीब, मेहनतकश और मध्यम वर्गीय लोगों की पीड़ा अभी तक कम नहीं हुई है। इनमें भी सबसे ज्यादा देहातों के गरीब और किसान लोग दुखी हैं। नोटबंदी को लेकर राज्यसभा सांसद मायावती संसद के भीतर और बाहर सरकार के खिलाफ लगातार हमले बोल रही हैं। उनका कहना है कि यह बिना पूरी तैयारी के जल्दबाजी में लिया गया फैसला है। 

UP Political News की अन्य खबरें पढ़ने के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You